पीरियड में सम्बन्ध बनाने से प्रेग्नेंट होते नहीं?

कई बार महिलाओ और लड़कियों के दिमाग में ये सवाल रहता है की क्या पीरियड के दौरान रिलेशन बनाने से उनको प्रेगनेंसी हो सकती है या नहीं अब इस सवाल का जवाब हां भी है नहीं भी है, तो आज के आर्टिकल में हम आपको बातएंगे की पीरियड के दौरान रिलेशन बनाने से किन महिलाओ में प्रेगनेंसी होने के चान्सेस ज्यादा होते है और किन महिलाओ में प्रेगनेंसी होने के चान्सेस कम होते है तो आप हमारे इस आर्टिकल को एन्ड तक जरूर देखें

जैसा की हमने अभी कहा पीरियड के दौरान रिलेशन बनाने से आपको प्रेगनेंसी हो भी सकती है और नहीं भी इसका main रीज़न होता है आपका पीरियड साइकिल अब पीरियड साइकिल क्या होता है? देखिये एक महिला को एक बार पीरियड आने से लेकर अगली बार पीरियड आने में कितने दिन लगते है ये ही पीरियड साइकिल कहलाता है इसके majorally 3 हिस्से होते है

1 -पहला पीरियड

2 -दूसरा ओवुलेशन

3 -तीसरा इम्प्लांटेशन

अगर आप पीरियड साइकिल को बहुत अच्छे तरीके से और डीप में समझना चाहती है

आमतौर पे महिलाओ को पीरियड 5 से लेकर 7 डेज तक होता है और उसके बाद शुरू होता है ओवुलेशन की तैयारी का समय और लगभग पीरियड की ब्लीडिंग खतम होने के 7 से 10 डेज के बाद आपको ओवुलेशन होता है , और अगर आपको प्रेगनेंसी होती है तो ओवुलेशन के बाद इम्प्लांटेशन की प्रोसेस स्टार्ट हो जाती है नहीं तो आपकी बॉडी अगले पीरियड की तैयारी करना शुरू कर देती है ऐसे में अगर आप पीरियड के दौरान बिना प्रोटेक्शन के रिलेशन बनाते है तो मेल का स्पर्म महिला के प्राइवेट पार्ट से होता हुआ फलोपियन tube तक पहुंच जाता है और यहाँ पर महिला के एग का वेट करना शुरू कर देता है अब अगर महिला ने अगले पांच दिन तक ovulate करना शुरू कर दिया यानि अंडा निकलकर फलोपियन tube में आ गया तो महिला का एग फर्टाइल हो जाता है और उनकी प्रेगनेंसी आगे बढ़ने लग जाती है

अब वापस आते है अपने सवाल पे की प्रेगनेंसी हो सकती है के नहीं ?

जैसा की हमने आपको अभी बताया है की ओवुलेशन के और अगले पीरियड के शुरू होने पे लगभग 14 दिन का टाइम होता है तो अगर किसी महिला का पीरियड साइकिल 21 से 2 4 दिन का है तो उसके ओवुलेशन पीरियड के सुरुवात के दिन के बाद 7 से 10 दिन के बाद कभी भी हो सकता है और अगर महिला ने पीरियड शुरू होने के 5 ,7 वे दिन के आस – पास रिलेशन बनाया है जो की अक्सर महिलाये बना लेती है, क्युकी इस समय ब्लीडिंग होना थोड़ा कम हो जाती है तो मेल का स्पर्म फलोपियन tube पे पहुंच कर वेट करेगा और मेल का स्पर्म पांच दिन तक फलोपियन तुबे पे पहुंच कर एग को फर्टाइल भी कर सकता है और इसी वजह से महिला को प्रेगनेंसी भी हो सकती है इसके अलावा अगर किसी महिला के पीरियड रेगुलर नहीं है यानि की पीरियड साइकिल उनकी फिक्स नहीं है इसका मतलब उनके सरीर में हार्मोन का बैलेंस गड़बड़ है जिसकी वजह से पीरियड साइकिल लम्बी होने के बावजूद भी ओवुलेशन टाइम से पहले हो सकता है और इसी वजह से उनको भी प्रेगनेंसी होने के सम्भावना हो जाती है लेकिन अगर आपका पीरियड साइकिल एक दम रेगुलर है और 28 से 30 दिन का है तब आपको प्रेगनन्सी होने के चान्सेस कम होते है लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं कहा जा सकता की आपको प्रेगनेंसी नहीं होगा पर चांस कम होते है इसके अलावा किसी भी महिला को पीरियड में रिलेशन बनाने के फायदे और नुकसान भी होते है जैसे की महिला को इन्फेक्शन का खतरा रहता है

पीरियड्स में संबंध बनाने के फायदे 
एक्सपर्ट की मानें तो इस दौरान संबंध बनाने से मासिक धर्म के लक्षणों जैसे ऐंठन, माइग्रेन और सिरदर्द को कम किया जा सकता है

संबंध बनाना चाहिए या नहीं?
पीरियड्स में यौन संबंध बनाने में कभी-कभी गड़बड़ हो सकती है. संबंध बनाने से यौन इंफेक्शन का भी खतरा होता है. जैसे- एचआईवी, हर्प्स या हेपेटाइटिस की समस्या हो सकती है. ऐसे में पीरियड्स (Periods) के दौरान शारीरिक संबंध बनाना जोखिम भरा हो सकता है. 

लेकिन पीरियड में रिलेशन बनाने से महिला को क्रैम्प्स के दर्द से आराम मिल जाता है इसके अलावा भी बहुत फायदे और नुकसान होते है अगर इसके बारे में आप जानना चाहती है तो आप हमारे प्रेगनेंसी की playlist को चेक कर सकती है

पीरियड्स के दौरान आपको रिलेशन बनाने से प्रेगनेंसी हो सकती है के नहीं वैसे तो मैं हम यही कहेंगे की पीरियड्स हो या न हो अगर आप अनवांटेड प्रेगनेंसी नहीं चाहती है तो आप प्रोटेक्शन का इस्तेमाल जरूर करे

Leave a Comment